Critics With Fun!

दवा व्यापारी सुसाइड मामले में मजिस्ट्रियल जांच के आदेश


हरिद्वार।
लॉकडाउन के दौरान दवा व्यापारी के खुद को गोली मारकर आत्महत्या करने वाले मामले में जिलाधिकारी ने मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिये है। जिसकी जांच का जिम्मा नगर मजिस्टे्रट को सौपा गया है। लोगों से अपील की गयी हैं कि इस मामले में अगर किसी को कोई बयान या फिर कोई साक्ष्य उपलब्ध कराने है तो नगर मजिस्टे्रट कार्यालय पहुंच कर कार्य दिवस के दौरान दर्ज करा सकता है।
उल्लेखनीय है कि 3 जून 2021 को दवा व्यापारी दीपक कुमार चौहान (4) पुत्र राजकुमार चौहान निवासी सीतापुर ज्वालापुर ने अपनी लाईसेंसी पिस्टल से खुदकर गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। जिसको शव परिजनों ने तलाश के दौरान ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र स्थित नहर पटरी पर खड$ी कार से बरामद किया था। पुलिस को कार से कोई सुसाइड नोट भी बरामद नहीं हुआ था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के पश्चात परिजनों के सुपूर्द कर दिया था। इस संबंध में मजिस्ट्रियल जांच के लिए जिला मजिस्ट्रेट सी रविशंकर ने नगर मजिस्ट्रेट को जांच अधिकारी नामित किया है। इस घटना के संबंध् में लोगों से अपील की गयी कि यदि किसी व्यक्ति को कोई मौखिक अथवा लिखित साक्ष्य प्रस्तुत करना हो तो वह एक सप्ताह के भीतर कार्यालय नगर मजिस्ट्रेट, स्थित पुरानी कचहरी देवपुरा में किसी भी कार्य दिवस में प्रात: 11 से सांय 5 बजे तक उपस्थित होकर अपने बयान अभिलिखित करा सकता है अथवा लिखित साक्ष्य प्रस्तुत कर सकता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.