Critics With Fun!

मास्टरमाइंड पुलिस की गिरफ्त में,

उत्तराखण्डरूडकी

January 16, 2020 प्रधान कमर आलम हत्याकांड का मास्टरमाइंड पुलिस की गिरफ्त में, रामनगर कोर्ट के बाहर गोली मारकर की गई थी प्रधान की हत्या

रुड़की । विगत वर्ष 20 दिसंबर की शाम रामनगर कोर्ट के बाहर प्रधान कमर आलम की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी । जिसमें पुलिस ने कमर आलम हत्याकांड में मुख्य अभियुक्त मास्टरमाइंड अभियुक्त आबिद के छोटे भाई आशिक अली पुत्र जब्बाद निवासी शाहीन बाग जामिया नगर नई दिल्ली को गंग नहर पुलिस द्वारा कल दिनांक 15 जनवरी 2020 को मंगलौर के पास से गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्त आशिक अपने वकील से मिलने हैं तथा आत्मसमर्पण करने की फिराक में था। इस हत्याकांड का मुख्य साजिशकर्ता आशिक अली जामिया विश्वविद्यालय दिल्ली से मैकेनिकल में इंजीनियरिंग पास है और कई साल विदेशों में भी नौकरी कर चुका है। गिरफ्तारी के बाद आशिक अली द्वारा बताया गया है कि उसके भाई आबिद को कमर आलम से जान का खतरा था इसलिए उन्होंने षड्यंत्र रच कर किराए के शूटरों के माध्यम से कमर आलम की हत्या करवाई और हत्या के दिन ही पहले से ही बनाई गई योजना के अनुसार आबिद सीधे धर्मशाला थाने पर पहुंचा और वहां अपनी वीडियो रिकॉर्डिंग करवाई। साथ ही 100 नंबर पर भी कॉल किया उसके साथ साथ उसी दिन हत्या के तुरंत बाद आशिक अली दिल्ली में रोहिणी थाने पहुंचा और वहां पहुंचकर बताया कि रुड़की में कोई मर्डर हो गया है और उसमें मुझे झूठा फंसाया जा सकता है। उसके द्वारा इस बात की एंट्री थाने के अभिलेखों में भी करवाई इसके अतिरिक्त उसके द्वारा सबूत के रूप में दिल्ली में ही 100 नंबर पर कॉल करके भी अपने आप को दिल्ली में होने की बात बताई। अभियुक्त द्वारा जानबूझकर घटना के दिन अपने बचाव में किए गए फोन कॉल्स की डिटेल दिल्ली और धर्मशाला से प्राप्त कर विवेचना में शामिल कर साक्ष्य संकलन किया जाएगा। इस हत्याकांड में शेष अभियुक्तों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

नरेन्द्र प्रधान हरिद्वार

Leave A Reply

Your email address will not be published.