Critics With Fun!

मानवाधिकार आयोग में ले जाएगे रिक्शा चालको के शोषण का मामला: श्रीवास्तव

जीरो जोन मे एंट्री फीस ना देने पर रिक्शा करें सीज

हरिद्वार।
सोशल मीडिया पर एक फ ोटो वायरल हो रही है। जिसमें जीरो जोन क्षेत्र में बिना पांच रुपये की पर्ची कटाए घुसने वाले रिक्शा चालको की रिक्शा नगर निगम के रिक्वरी वाहन द्वारा जप्त कर ले जाई जा रही है। नगर निगम की इस प्रकार की प्रतिक्रिया से आहत रूल आफ  लॉ जस्टिस सोसाईटी के अध्यक्ष एडवोकेट अरविन्द श्रीवास्तव ने बताया कि वह इस मामले को राष्ट्री मानवाधिकार आयोग के समक्ष उठाएगे। उन्होने बताया कि हाथ रिक्शा चलाने वाला गरीब जहां दिन भर हाडतोड मेहनत से रिक्शा चलाकर अपने परिवार का भरण पोषण करता है। नगर निगम हरिद्वार इतनी दिवचालिया हो गई जो उसे अपने कर्मचारियों की वेतन देने के लिए गरीब रिक्शा चालकों से पांच 5 रुपये उघाई करनी पड रही है। दूसरी आेर करोड रुपए का बकाया और गबन करने वाली कंपनी उषा ब्रेको द्वारा बार-बार नगर निगम को ठेंगा दिखाया जा रहा है। उन्होंने रामायण के एक दोहे को उच्चारण करते हुए कहा कि समर्थ को दोष नही गुसाई। कहा कि वर्षो से निगम और सरकार को करोडो के राजस्व का चूना लगाने वाली कम्पनी पर राजनैतिक दबाव के चलते कोई कार्रवाई नही की जाती उस पर कोई जोर नहीं चलता। उसके उलट 5 रुपए ना देने वाले गरीब रिक्शा चालक की रिक्शा को निगम के वाहन उठा कर ले जा रहे हैं। यह सरासर अन्याय है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.