Critics With Fun!

तीन दिवसीय लालढांग महोत्सव बुधवार से

हरिद्वार।
लालढांग—उत्तराखंड की विलुप्त हो रही बोली भाषा एवं संस्कृति को संरक्षित करने के उद्देश्य से डांडी, काँठी और समलयोंणा सांस्कृतिक कार्यक्रमों के तहत लालढांग में तीन दिवसीय लालढांग महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। पौराणिक देवभूमि सोसायटी संस्था द्वारा किये जा रहे इस महोत्सव में क्षेत्रीय विद्द्यालयो के बच्चों के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ— साथ गढ$वाली, कुमाउनी, जौनसारी हिंदी के कार्यक्रम उत्तराखण्ड के प्रसिद्ध लोक गायक और कलाकारों की प्रस्तुतियां भी देखने को मिलेंगी। जिसमें उत्तराखण्ड के प्रसिद्ध लोक गायक गजेंद्र राणा, धूम सिंह रावत, रेशमा शाह, जितेंद्र चौहान, बिनोद सती, कुसुम नेगी, सोनम सुखवन्दिता के साथ -साथ हास्य कलाकार संदीप छिलबट भी अपनी अपनी प्रस्तुति देंगे। लाल आेमप्रकाश ज्ञानदीप कन्या इण्टर कालेज में होने वाले इस महोत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करने कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद महाराज मौजूद रहेंगे। महोत्सव के अंतर्गत उत्तराखण्ड की रसोई में पहाड$ी व्यंजन भी मौजूद होंगे। दूसरे शब्दों में कहा जाय तो पहाड$ी व्यंजनों के साथ लालढांग महोत्सव का आगाज किया जाएगा। संस्था के संस्थापक सुमन धस्माना ने बताया कि तीन दिवसीय लगने वाले इस महोत्सव में उत्तराखण्ड बोली भाषा और सांस्कृतिक की झलक देखने को मिलेगी, कार्यक्रम 24 नवम्बर से 26 नवम्बर तक होगा। जिसमें प्रतिदिन दोपहर 2 बजे से 4 बजे तक विभिन्न स्कूलों के बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा। शाम 6 बजे से रात्रि 1 बजे तक उत्तराखण्ड के लोक कलाकारों द्वारा प्रस्तुतियां पेश की जाएंगी। महोत्सव में बच्चों के मनोरंजन के लिए भी साधन उपलब्ध रहेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.