Critics With Fun!

कोविड के गंभीर प्रभावों से सुरक्षा दे सकता है फ्लू का टीका, अध्ययन में दी गई जानकारी

साल में एक बार लगाया जाने वाला इंफ्लुएंजा का टीका कोविड-19 के मरीजों में आघात, सेप्सिस यानी घाव का सड़ना, खून के थक्के जमना और कई अन्य गंभीर प्रभावों के जोखिम को कम करता है। अपने तरह के सबसे बड़े अध्ययन में यह जानकारी दी गई है। यह अध्ययन ‘पीएलओएस वन’ जर्नल में तीन अगस्त को प्रकाशित हुआ है।

अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ मियामी मिलर स्कूल ऑफ मेडिसिन के अनुसंधानकर्ताओं ने यह भी पाया कि कोविड-19 के जिन मरीजों को फ्लू का टीका लगा हुआ है उन्हें आपातकालीन विभाग में जाने की और गहन देखभाल कक्ष (आईसीयू) में भर्ती कराने की जरूरत भी कम पड़ती है।

मिलर स्कूल में प्राध्यापक, अध्ययन के वरिष्ठ लेखक देविंदर सिंह ने कहा, ‘आज की तारीख तक कोविड-19 के खिलाफ दुनिया के केवल छोटे से हिस्से को टीके की सभी खुराकें दी जा चुकी हैं और वैश्विक महामारी के कारण हुई बर्बादी के साथ ही वैश्विक समुदाय को गंभीर बीमारियों और मृत्यु की आशंका को कम करने के तरीके अब भी तलाशने की जरूरत है।’

मुख्य लेखकों सुजैन तागीओफ और बेंजमिन स्लेविन के साथ अनुसंधान करने वाले सिंह ने कहा, ‘मेरी टीम फ्लू के टीके और कोविड-19 मरीजों में गंभीर बीमारियों के जोखिम कम होने के बीच संबंध स्थापित कर पाई है।’

Leave A Reply

Your email address will not be published.